आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर “उज्जवल भारत, उज्जवल भविष्य @2047” का समापन कार्यक्रम

पीएम ने कई परियोजनाओं सहित रूफ टॉप सोलर पोर्टल का ऑनलाइन किया उद्घाटन, सांसद जयंत सिन्हा, उपायुक्त नैंसी सहाय एवं डीडीसी प्रेरणा दीक्षित समापन कार्यक्रम में हुई शामिल

नगर भवन में आयोजित बिजली महोत्सव के समापन समारोह को संबोधित करते हुए हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने कहा सरकार का लक्ष्य वर्ष 2047 तक ऊर्जा के क्षेत्र में देश को आत्मनिर्भर बनाना है। हमे ऊर्जा संरक्षण के साथ साथ नवीकरणीय ऊर्जा के विकल्प को ध्यान में रखकर कार्ययोजना पर कार्य करने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया बिजली महोत्सव का उद्देश्य आमलोगो को बिजली के क्षेत्र में उलब्धियों को बताना साथ ही हर घर को 24 घंटे बिजली देना और मीटर लगाना है। श्री सिन्हा ने कहा देश में 90% से अधिक लोगों के घरों को बिजली मिल रही है। देश में पिछले 8 सालों में तेज़ी से विद्युतीकरण हुआ है, देश में आपूर्ति हेतु ग्रिड का जाल बिछाया है। पर्याप्त मात्रा में बिजली का उत्पादन देश में हो रहा है। जिसमें झारखण्ड का महत्वपूर्ण योगदान रहा है बावजूद इसके राज्य में बिजली की गुणवत्ता संतोषजनक नहीं है जिसपर सुधार की गुंजाइश है इस क्षेत्र में हमें और अधिक काम करने की आवश्यकता है।

सांसद ने कहा 20 से 30 वर्षों में..

उन्होंने बताया अभी देश में ऊर्जा उत्पादन क्षमता 400 गीगा वॉट को बढ़ा कर आने वाले 20-30 वर्षो में 1000-1200 गीगा वॉट उत्पादन क्षमता विकसित करना है। उन्होंने आगे कहा ऊर्जा के वैकल्पिक उपायों के तहत उपलब्ध संसाधनों का विवेकपूर्ण, योजनाबद्ध तरीके से उपयोग पर काम करना होगा। झारखंड का हजारीबाग, रामगढ़, चतरा जिला ऊर्जा उत्पादन में अहम योगदान दे रहा है। यहां कोयला ब्लॉक के साथ साथ रामगढ़ में एनटीपीसी पॉवर प्लांट इसका सबूत है। उन्होंने कहा प्रतिवर्ष 70-80 करोड़ राशि डीएमएफटी फंड से जिला के खनन प्रभावितों के सामाजिक, आर्थिक उत्थान हेतु कई योजनाओं से मानव संसाधन को संबल प्रदान करने के लिए संवेदनशीलता से प्रयास किया जा रहा है। ताकि आने वाली पीढ़ी को किसी तरह की परेशानीयो का सामना न करना पड़े और उन्हें विकास का लाभ मिलता रहे यह सुनिश्चित करने के लिए प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कार्बन उत्सर्जन को कम करने की दिशा में आने वाले 50 वर्षों में धीरे धीरे जीरो कार्बन उत्सर्जन स्तर लक्ष्य हासिल करने की दिशा में कार्य चल रहा है।

पीएम ने ऑनलाइन परियोजनाओं का किया उद्घाटन


इस मौके पर प्रधनमंत्री ने कई परियोजनाओं को ऑनलाइन उद्घाटन किया। साथ रेनेवेबल एनर्जी के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों को विस्तार से बताया। उन्होंने कहा की बिजली को बचाना भविष्य को सजाना है। इस कार्यक्रम के अंत में प्रधानमंत्री ने रूफ टॉप सोलर पोर्टल को भी लॉन्च किया।

आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर ऊर्जा महोत्सव के अंर्तगत “उज्जवल भारत, उज्जवल भविष्य @2047 के समापन कार्यक्रम में सांसद जयंत सिन्हा,उपायुक्त नैंसी सहाय,डीडीसी प्रेरणा दीक्षित,ऊर्जा महोत्सव कार्यक्रम के नोडल पदाधिकारी संजय सिन्हा, जितेन्द्र झा एवम स्थानीय जनप्रतिनिधि व अन्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here