खनन टास्क फोर्स की मासिक बैठक संपन्न

अवैध खनन व खनन माफियाओ पर प्रभावी कारवाई के लिए उपायुक्त नैन्सी सहाय की अध्यक्षता में ज़िला खनन टास्क फोर्स की मासिक बैठक समाहरणालय सभागार मे गुरुवार को हुई। उपायुक्त श्रीमति सहाय ने कहा की प्रभावी कारवाई के लिए संबंधित विभाग समेकित रूप से अभियान में शामिल हो कर अवैध खनन, परिवहन सहित संलिप्त माफियाओं पर संयुक्त कारवाई करें। ख़ासकर इको सेंसेटिव जोन में किसी भी तरह के खनिजों का उत्खनन, परिवहन, क्रशर का संचालन, वनों की कटाई, आरा मिलों का संचालन पूरी तरह वर्जित और गैर कानूनी है। साथ ही उन्होने कहा की एनजीटी के जारी गाइडलाइन के अनुरूप अक्टूबर तक बालू का खनन को रोकना होगा।

बढ़ेगी चेकिंग होगी कार्रवाई..

पत्थर माफियायो पर कारवाई सहित पत्थर उत्खनन के लिए अवैध माइनिंग व क्रशर को डोजरिंग कर ध्वस्त करने के लिए अभियान का दूसरा चरण की कारवाई करने का निर्देश उपायुक्त ने दिया।
अवैध बालू खनन, परिवहन पर रोक लगाने एवं एनजीटी प्रावधान का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित करने का निर्देश देते हुए पूर्व से निर्धारित चेक पोस्ट की संख्या बढ़ाने, चलंत क्यूआरटी टीम को ऑन द स्पॉट वाहनों की जब्ती करने का निर्देश थाना प्रभारी व अंचल की टीम को उपायुक्त ने दिया। साथ ही अंतर्राजीय व निर्धारित स्टैटिक चेक प्वाइंट पर तीन पालियों में मजिस्ट्रेट व पुलिस बल तैनात कर चेकिंग बढ़ाने का निर्देश दिया।

पानी छिड़काव से लेकर अप परिवहन प्रोटोकॉल तक का होगा ध्यान


कोल कंपनियों के द्वारा माइनिंग व परिवहन के क्रम में परिवहन प्रोटोकॉल के नियमों के अनदेखी को संज्ञान में लेते हुए ओवरलोडिंग रोकने, कवर कर वाहन से परिवहन, आबादी वाले इलाकों में सड़को पर पानी का छिड़काव करने की जिम्मेवारी तय कर कंपनियों से अनुपालन कराने का निर्देश दिया गया। इसके अलावा प्रदूषण मानकों को प्रदर्शित करने वाली डिस्पले स्क्रीन सार्वजनिक स्थान पर लगाने का निर्देश दिया गया।


मौके पर डीएफओ,एसडीओ बरही, एसी, डीएमओ,डीटीओ व अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here