वैश्विक महामारी कोरोनावायरस के दंश ने विश्व में 2 लाख 80 हजार से ज्यादा लोगों की जान ले ली, वहीं भारत में 2109 लोग अपनी जान गवा चुके हैं. बात करें झारखंड की तो 156 कोरोना संक्रमितों मरीजों में 3 लोगों की मौत हो चुकी है.

कोरोना संक्रमण के खतरे एवं उपाय के मद्देनजर भारत सरकार हर स्तर पर प्रयत्नशील है. लॉक डाउन, सोशल डिस्टेंसिंग, फेस मास्क, सैनिटाइजेशन क्वॉरेंटाइन जैसे तमाम अहम मुद्दों को जनहित में लागू करवाना हो, दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करवाना हो या फिर जन जागरूकता अभियान चलाना हो सरकार निरंतर प्रयासरत है और निसंदेह इन्हीं कारणों से परिणाम भी भारत के लिए विश्व के अन्य कोरोना प्रभावित देशों से बेहतर है. बेहतर परिणाम केंद्र व राज्य सरकार की दृढ़ इच्छाशक्ति के बदौलत तो है ही आम जनता का सहयोग सर्वोपरि रहा है, आम लोगों के सहयोग के बिना कोरोना से जंग लड़ने की कल्पना तो दूर एक कदम भर चला नहीं जा सकता, जिसकी बानगी पूरी एक तस्वीर बयां करती है, जो झारखंड के हजारीबाग जिले की है तस्वीर में 3 साल का छोटा सा बच्चा थर्मल स्कैनिंग कराता दिख रहा है जो करोना कि इस जंग में भारत की बेहतर स्थिति की पूरी कहानी और आगे की लड़ाई के लिए जागरूकता, सतर्कता, संवेदनशीलता सभी एक तस्वीर में समाए बैठा है.

हजारीबाग में प्रशासन हर स्तर पर सतर्क है

जानकारी को बता दें हजारीबाग के सभी तीनों कोरोना पॉजिटिव मरीज कोरोना संक्रमण से मुक्त हो अपने घर लौट चुके हैं. जिला प्रशासन अपने स्तर से कोई मौका नहीं छोड़ना चाहता संक्रमण के हर संभावनाओं को समाप्त करने के उद्देश्य से स्वास्थ्य कर्मियों की टीम नगर निगम के अलग-अलग वार्डो में हर घर के दरवाजे पर पहुंच लोगों की मेडिकल जांच यानी थर्मल स्कैनिंग कर रही है किसी भी संदिग्ध की पहचान होने पर फौरन जिला स्तरीय गठित मेडिकल टीम को संबंधित व्यक्ति व जगह की जानकारी दी जाती है. स्वास्थ्य कर्मियों की विशेष नजर जानकारी छुपा रहे जिले में बाहर से आए लोगों के ऊपर भी होती है ताकि सूचित कर उन्हें ससमय क्वॉरेंटीन किया जा सके.

बड़े तो बड़े 3 साल का बच्चा भी दे रहा संदेश

थर्मल स्कैनिंग प्रक्रिया के दौरान जब 3 साल का बच्चा भी अपनी मेडिकल जांच को तैयार हो गया. यह करोना संक्रमण के खतरों प्रति गंभीरता तो है ही; साथ ही साथ बच्चे के परिवार की जागरूकता और संवेदनशीलता भी है. जो बिना डरे बच्चे की मेडिकल जांच करवा रहे हैं. ऐसी पहल कोरोना से जंग में कइयों को प्रेरित करेगा खासकर जो जांच से छुपते हैं या खुद को छुपाते हैं, साथ ही साथ जिले से लेकर राज्य तक कोरोना वायरस से लंबी लड़ाई में नई ऊर्जा और दिशा देगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here