हजारीबाग जिले मे हैलो पुलिस का शुभारम्भ पुलिस उप-महानिरीक्षक उत्तरी छोटानागपुर क्षेत्र, हजारीबाग उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्षक हजारीबाग के द्वारा की गई.

पुलिस तंत्र को बेहतर करने के लिए की गई अनोखी पहल

हजारीबाग: जिले मे हैलो पुलिस का शुभारम्भ बुधवार पुलिस उप-महानिरीक्षक उत्तरी छोटानागपुर क्षेत्र, हजारीबाग उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्षक हजारीबाग के द्वारा की गई. आम लोगो के लिए बेहतर पुलिस सेवा और सहुलियत देने उद्देश्य से हेलो पुलिस सेवा की शुरुआत की गई.

सॉफ्टवेयर में दर्ज रिकार्ड बदल देगी पुलिस सेवा की तस्वीर

अब आप हजारीबाग पुलिस थाने में मामले दर्ज करवाएंगे या मामले पहुंचेंगे तो वह सारे सॉफ्टवेयर में दर्ज हो जाएंगे जिसकी सीधी मॉनिटरिंग जिले के पुलिस अधीक्षक कर पाएंगे. थाने में दर्ज मामले के बाद आपको एक पावती रसीद दी जाएगी, जिसमें आपकी जानकारियों में नाम, पता व अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के अलावे थाना में आने के कारण का जिक्र होगा, वही सारी जानकारियों की एक प्रति सॉफ्टवेयर में भी रिकॉर्ड हो जाएंगी ,इस प्रक्रिया के तहत पुलिस सेवा की बेहतरी का एक प्रयास होगा जिसके तहत 7 दिनों के बाद शिकायतकर्ता द्वारा दिए गए नंबरों पर कॉल कर संबंधित मामलों की प्रगति की जानकारियां प्राप्त की जाएंगी. इस प्रयास के तहत जो सबसे बड़ी बात निकल आ रही है उसके तहत अब पुलिस के व्यवहार बर्ताव के फीडबैक दी जा सकेगी

समय सीमा के अंदर निपटान में होंगे मामले

अब थानों में मामला लंबे अवधि तक लटकाना आसान नहीं होगा. उक्त प्रयास के माध्यम से हर मामलों के लिए निश्चित समय अवधि के तहत ही समस्याओं का निष्पादन होगा. आम जनता के समक्ष मामले दर्ज करवाने को लेकर शिकायतें रही हैं अब हैलो पुलिस सेवा के माध्यम से आम जनों को फरियाद करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी. चरित्र प्रमाण सत्यापन, मोबाइल खो जाने का सनहा, पासपोर्ट सत्यापन जैसे और भी कई मामले अब पहले के मुकाबले पुलिस सेवा प्राप्त करना हो जाएगा आसान . हैलो पुलिस के तहत खोया पाया, सत्यापन, शिकायत जैसी श्रेणियों में मामलों के त्वरित निष्पादन के लिए पुलिस सेवा तैयार मिलेगी.

जानकारी को बता दें तेज तरार एक्शन मोड में दिख रहे हजारीबाग पुलिस अधीक्षक कार्तिक एस ने पहले भी बोकारो जिले के एसपी रहते हुए ऐसे ही प्रयोग किए जो काफी सफल रहे थे .

हैलो पुलिस सेवा का शुभारंभ पुलिस की कार्यशैली में गुणात्मक सुधार, आम लोगों की पुलिस के प्रति सोच में बदलाव, मामलों के त्वरित निष्पादन और जनता के भरोसे व विश्वास को झारखंड पुलिस से जोड़ने की तरफ एक सकारात्मक पहल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here