झारखंड विधानसभा में हंगामेदार सत्र जारी रहा , आपको बता दें सोमवार को झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन की कार्यवाही हो हल्ले हंगामे के बीच बाधित रही. हंगामे के बीच झारखंड प्रदेश के वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव ने सदन में 7323 करोड़ का दूसरा अनुपूरक बजट पेश किया. भाजपा विधायकों के लगातार बढ़ रहे हंगामे के बीच सदन की पहली पाली में कार्यवाही 12:30 बजे तक स्थगित कर दी गई . दोबारा 12:30 के बाद सदन आरंभ होते ही यथावत हंगामेदार स्थिति बनी रहे विधायक वेल में आ गए स्पीकर ने सदन की कार्रवाई सुचारू रूप से चलने हेतु विधायकों को अपने सीट पर बैठने का कई बार आग्रह भी किया हंगामेदार स्थिति को देखते हुए पुनः सदन की कार्यवाही 2:00 बजे तक स्थगित कर दी गई.

स्पीकर बोले जुलूस हो गया नारा हो गया अब सीट पर चले जाएं

इस बात का अंदेशा कहीं ना कहीं महागठबंधन सरकार को भी था कि विपक्ष सदन में राज्य की बिगड़ती कानून व्यवस्था ,नक्सली हिंसा एवं रोजगार जैसे ज्वलंत मुद्दे पर सदन की कार्यवाही की निरंतरता में बाधक बनेगी खूब बवाल कटेगी , और बजट सत्र में कुछ ऐसा ही देखने को मिला जब भाजपा के विधायक पहली पाली में हेमंत सरकार द्वारा नियोजन नीति रद्द करने को लेकर हंगामेदार विरोध करते रहे दूसरी बार कार्यवाही पुनः आरंभ होते ही वेल में आ गए और हाय हाय के नारे लगाने लगे. साथ ही भाजपा के सभी विधायक नारा लगाते हुए परिक्रमा भी करने लगे . सदन की कार्यवाही आगे बढ़ सके प्रयास में विधानसभा स्पीकर ने चुटकी लेते हुए हंगामा कर रहे विधायकों को कहा भी अब आपने सब कर लिया परिक्रमा कर ली, जुलूस हो गया ,नारा हो गया. अब सीट पर चले जाइये लेकिन ऐसा हो न सका और हंगामा चलता रहा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here