बात कर रहे हैं झारखंड के सबसे गरीब MLA पहली बार विधायक बने मंगल कालिंदी की जो फिलहाल चर्चा में है, अपनी संपत्ति को लेकर मात्र 30 हजार की जमा पूंजी.. झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 चुनाव आयोग को दिए हलफनामा के हिसाब से मंगल कालिंदी की संपत्ति 2 बैंकों में जमा 20 हजार और 10 हजार कूल 30 हजार रुपए ही है

झारखंड सरकार में मंत्री रहे आजसू के रामचंद्र सहिस और भाजपा प्रत्याशी मुनीराम बाउरी को हराया

झामुमो ने झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 में अपनी सबसे बड़ी जीत हासिल की 30 सीटों के साथ ,झामुमो का पिछला सर्वश्रेष्ठ 23 सीट ही रहा है. मंगल कालिंदी बतौर झामुमो प्रत्याशी जुगसलाई विधानसभा क्षेत्र से अपनी किस्मत आजमा रहे थे; झारखंड के सबसे गरीब प्रत्याशी के रुप में.. वर्तमान राजनीतिक परिवेश में चुनाव में धनबल का उपयोग वोट पाने के लिए सबसे प्रभावी तंत्र माना जाता है, जाहिर है जुगसलाई विधानसभा अपवाद नहीं रहा, भाजपा और आजसू के सारे प्रयासों के बावजूद मंगल कालिंदी चुनाव जीत गए, भाजपा प्रत्याशी मुनीराम बाउरी को 21934 वोटों के अंतर से हराया, वहीं सरकार में मंत्री रहे आजसू प्रत्याशी रामचंद्र सहित जो लगातार दो बार से विधायक रहे थे लगातार तीसरी जीत नहीं दर्ज कर पाए. धनबल पर 30 हजारी हावी रहा, जनबल की जीत हुई.

अपने विधानसभा क्षेत्र के लोगों के सुख-दुख में शामिल होना मंगल कालिंदी की जीत का सबसे बड़ा कारण रहा है

हॉस्पिटल खुलवाना है प्राथमिकता

मंगल कालिंदी मानते हैं क्षेत्र में अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं ना होना जुगसलाई के लिए बड़ी समस्या है, गरीबी की वजह से लोग जमशेदपुर या पश्चिम बंगाल इलाज के लिए जाते हैं गरीब मरीजों की मौत कई बार तो बीच रास्ते में ही हो जाती है, मंगल कालिंदी बताते हैं गरीब जनता के लिए सबसे पहला काम क्षेत्र में सरकारी हॉस्पिटल खुलवाना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here