पाकुड में भारी मात्रा में मारुति वैन से अवैध विस्फोटक बरामद, ज़िले से कई जगह की जाती है विस्फोटकों की डिलीवरी

गुप्त सूचना पर छापेमारी कर हुआ भंडाफोड़- एसपी

अवैध विस्फोटक कारोबारी ज़िले में संक्रिय

पाकुड़: झारखंड राज्य का सुदूरवर्ती व काले पत्थर की भूमि जिला पाकुड़ अपने वजूद मे आने के पूर्व से ही तमाम तरह के अवैध व्यापार मसलन अवैध खनन, अवैध विस्फोटक, पशु तस्करी जैसे कृत्य के लिए शूमार रहा है और इसकी तस्दीक खुद पुलिस प्रशासन के द्वारा छापामारी व धरपकड़ के दौरान किया जाता रहा है. विस्फोटक तस्करी के ताजा मामले को पाकुड़ पुलिस अधीक्षक ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से सार्वजनिक किया. जारी विज्ञप्ति में कहा गया कि पुलिस अधिक्षक को गुप्त सूचना के आधार पर सूचना मिली थी की ऐसे अपराध में संलिप्त लोगों की सक्रियता आजकल कुछ ज्यादा ही बढ़ गई है ,अधिक सक्रिय हैं

JH 10/5651

पुलिस अधिक्षक ने सूचना के आधार पर त्वरित रूप से एक छापेमारी छपामारी दल का गठन किया गया. छापेमारी दस्ते को बीती देर रात्रि महेशपुर पाकुडिया मुख्य सडक मे पाकुडिया की ओर से आती एक ब्लू रंग की ओमीनी मारूति वैन(JH 10/5651) दिखी. छापामारी दल के द्वारा उक्त मारुति वैन को रुकने के आदेश देते ही उक्त वैन से चालक उतरकर भागने लगा एवं अंधेरे का फायदा उठाकर चालक पीछा कर रहे छापेमारी दल के हाथों से भाग निकला .

भारी मात्रा में विस्फोटक जप्त, जिसका उपयोग उग्रवादियों एवं पत्थर खदानों में

छापामारी दल के द्वारा सर्च करने पर उस वैन से 14 प्लास्टिक बोरा जिसमे चार सौ पीस NEOGEL एक्सप्लोसिव 125 g जीलेटीन के हिसाब से कुल 5600 पीस हाई एक्सप्लोसिव gel जैसे विस्फोटक सामग्री बरामद किए गए, जिसे जप्त कर लिया गया. विज्ञप्ति में उक्त विस्फोटक को उग्रवादियों के द्वारा एवं पत्थर खदान मे विस्फोट करने जैसे काम मे उपयोग किए जाने की बात कही गई है. इस मामले में महेशपुर थाने में थाना कांड संख्या 140/2020, धारा 4/5 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम 1908 के तहत मामला दर्ज किया गया है. छापामारी दल में महेशपुर थाना प्रभारी दिनेश प्रसाद चौरसिया, पुलिस अवर निरीक्षक ब्रजकिशोर सिंह व सुरेश कुमार सिंह के अलावे कई अन्य पुलिसकर्मी शामिल थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here