महाराष्ट्र मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे कैबिनेट का विस्तार हुआ, अजित पवार सरकार में नंबर 2 बन उप मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते हैं महाराष्ट्र की राजनीति में परिवारवाद का एक और अध्याय जुड़ जाता है

36मंत्रियों ने ली शपथ 25 कैबिनेट मंत्री

बड़े नाम वाले मंत्रियों का परिवारिक कनेक्शन

अमित देशमुख विलासराव देशमुख के बेटे

धनंजय मुंडे गोपीनाथ मुंडे के भतीजे

आदित्य ठाकरे कैबिनेट मिनिस्टर वर्तमान मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे

अजित पवार उप मुख्यमंत्री का प्रभार शरद पवार के भतीजे

भारत की राजनीति की सबसे बड़ी विडंबना परिवारवाद वंशवाद का दंश ही तो है कोई भी पार्टी अछूती नहीं है. पार्टी की नैतिकता विचारधारा, तमाम बातें धरी रह जाती हैं जब सत्ता सुख की बात आती है. राजनीति के इस गंदे खेल में कोई बगावत कर पिछले 37 दिनों में महाराष्ट्र में लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री की कुर्सी पा जाता है, सिंचाई घोटाले से जुड़े सारे आरोप वापस ले लिए जाते हैं.

फिलहाल दो भारत बसते हैं एक नेताजी वाली जो सिर्फ राजनीति करते है, दूसरी भारत गरीब लाचार बेबस जनता की जो राजनीतिक शिकार होते हैं.

महाराष्ट्र मंत्रिमंडल का विस्तार होता है चाचा भतीजे, बाप बेटे मंत्रिमंडल की मलाई खाते हैं वही दूसरा भारत जहां लाचारी बेरोजगारी उम्मीद और आशाओं से भरा पड़ा है कोई 37 साल में अपना एक घर नहीं बना पाता अपनी जिंदगी की खुशियां जुटाने में टूट जाता है, अपनी रोजगार की कोई उम्मीद नहीं जुटा पाता है, वहीं अजित पवार 37 दिनों में दो बार उप मुख्यमंत्री बन जाते हैं. पिता महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बनते हैं बेटा मंत्रिमंडल में जगह पाता है वहीं दूसरे भारत में जहां भूख और लाचारी से पीड़ित ना जाने कितने बाप बेटे पूरे परिवार के साथ भूखे ही सो जाते है

आज की राजनीतिक परिवेश में परिवारवाद अपने चरम विस्तार पर है, इसके शिकार पार्टी के हजारों कार्यकर्ता गन भी होते हैं जो पूरी ईमानदारी और तन्मयता से सालों साल पार्टी का झंडा ढोते हैं राजनीतिक काबिलियत होने के बावजूद पार्टी में ना तो इज्जत और ना ही ओहदा पाते हैं, वही राजनीति में परिवारवाद की सहूलियत का फायदा उठाते हुए कोई चुनाव में टिकट पा जाता है, विधायक भी बन जाता है, मंत्रिमंडल में जगह भी बना जाता है, हर पार्टी के कई विधायक मंत्री बनने के सारे मानकों पर खरे उतरने के बावजूद सालों साल विधायक ही रह जाते हैं; आज के महाराष्ट्र मंत्रिमंडल विस्तार में ऐसे कई उदाहरण मिल जाएंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here