भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महानता श्रेष्ठता का एक अनछुआ पहलू : भारत के शान सम्मान और देशवासियों के स्वाभिमान से कभी समझौता नहीं किए व करते है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी , पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का भारत के प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह को देहाती औरत प्रधानमंत्री के बयान पर नवाज शरीफ को खुलेआम जमकर लताडा था पुरजोर फटकार भी लगाई थी , हद में रहने वरना भारत इट का जबाब पत्थर से देना जानता है की खुली नसीहत व मुंहतोड़ चुनौती भी दी थी , जानिए पीएम नमो का यह रोचक प्रसंग ,आइए ताजा करे अनछुए पहलू को

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की टिप्पणी से आपा खो दिए थे नरेंद्र मोदी

यह प्रसंग व वाक्य उस अवधि का है जब महान अर्थशास्त्री डॉ मनमोहन सिंह भारत के प्रधानमंत्री थे और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विपक्षी दल भाजपा के राजनेता थे. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ थे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने लाहौर में आयोजित एक प्रेस वार्ता में भारत के प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह को एक देहाती औरत प्रधानमंत्री की संज्ञा दे दी थी बड़ी विडंबना रही कि मौके पर मौजूद भारतीय रिपोर्टर इस पर विरोध जताने के बजाए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ मिठाईयां खा रहे थे.

उदाहरण पेश करते हुए नवाज शरीफ ने उड़ायी थी प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह की खिल्ली

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने सितंबर 2013 में भारतीय प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह को देहाती औरत साबित करने के लिए उदाहरण पेश किया था की जब देहात की दो औरतें आपस में लड़ जाती है तो इसका फैसला कराने गांव की तीसरी औरत के पास पहुंच जाती है .इसी तरह भारतीय प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह देश में कोई बड़ी समस्या उत्पन्न होती है तो वे उक्त समस्या के समाधान के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के पास पहुंच जाते है. नवाज शरीफ के भारतीय प्रधानमंत्री के ऊपर शर्मनाक अपमानजनक टिप्पणी के बाद भी कुछ भारतीय मूल के रिपोर्टर नवाज शरीफ द्वारा परोसी गई मिठाइयों को लात मार छोड़कर चले जाने के बजाए नवाज शरीफ के साथ मिठाइयों का लुफ्त उठाते रहे थे .

कांग्रेस का धूर विरोधी भाजपा नेता नरेंद्र मोदी ने किया था इसका दहाड़पूर्ण प्रतिकार

सर्वविदित है कि नीति और नियत को लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच हमेशा द्वंद की स्थिति रही और अभी भी है , फिर भी भारत और भारतीयों के मान सम्मान और स्वाभिमान के कट्टर पक्षधर व हिमायती भाजपा नेता और वर्तमान भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का विश्व का लोकतंत्र प्रधान देश भारत के प्रधानमंत्री के प्रति ऐसी ओछी भद्दी व अपमानजनक टिप्पणी किंचित मात्र भी उन्हें रास नहीं आया था और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और मौके पर प्रेस वार्ता में शामिल तथाकथित भारतीय रिपोर्टर पर सिरे से बिफर व उखड़ गए थे ,नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान के नवाज शरीफ को लताड़ते दुत्कारते हुए ईट का जवाब पत्थर से दिया था.

क्या बोले थे वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी


तत्कालीन भाजपा के वरिष्ठ नेता और भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह पर की गई बेहूदी ओछी व अपमानजनक टिप्पणी पर खुले मंच से चिंघाड़ते दहाड़ते कहा था कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पहले स्वयं और अपने देश पाकिस्तान की गिरेबान में झांकेते रहें हिंदुस्तान और हिंदुस्तानी प्रधानमंत्री के गिरेबान में झांकने की जुर्रत व दुसाहस नहीं करें. भारत में सत्ता और विपक्ष में नीति और नियत को लेकर द्वंद व तकरार भले ही होता रहता है यह दीगर बात है और यह स्वस्थ स्वच्छ लोकतांत्रिक शासन प्रणाली का स्वस्थ स्वच्छ परंपरा व परिपाटी होती है , किंतु जहां भारत और भारतीयों के मान सम्मान व स्वाभिमान का प्रश्न व मुद्दा होता है ,वहां सारा हिंदुस्तान और हिंदुस्तानी एक साथ खड़े हो जाते हैं आंतरिक और वाह्य समस्याओं का निराकरण भी पूरा देश एक साथ बैठकर करता है , किसी का मोहताज नहीं होता. राष्ट्र और राष्ट्रीयता के धुन के पक्के वर्तमान भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को तल्ख लहजे में दुत्कार फटकार सुनाते हुए यह भी कहा था कि नवाज शरीफ कान खोल कर सुन ले की भारत ईट का जवाब पत्थर से देना बखूबी जानता है किसी के भी आगे झुकना कतई बरदाश्त ए काबिल नहीं साथ ही मौके पर उपस्थित मुल्क के तथाकथित पत्रकारों को नसीहत देते हुए कहा था कि मुल्क के प्रधानमंत्री पर ऐसी गंदी टिप्पणी के बाद भी ये नवाज शरीफ द्वारा परोसी गई मिठाईयां खाते रहे इन्हें तत्काल मिठाई को लात मार वहां से चल देना चाहिए था, जो उन्होंने नहीं किया इससे बड़ी शर्मनाक और दुखद बात भारत के लिए और क्या हो सकती है ? वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महानता व बड़ी खासियत भारत के सारे नेताओं और देशवासियों के लिए अनुकरणीय है.

वरिष्ठ पत्रकार व स्तंभकार प्रो0 धीरेंद्र नाथ सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here