झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 झारखंड ने अपना चुनावी इतिहास दोहराया दिग्गजों को करारी शिकस्त मिली, इस चुनाव में रघुवर सरकार के तीन मंत्री स्पीकर प्रदेश अध्यक्ष सहित खुद मुख्यमंत्री रघुवर दास भी चुनाव हार गए, सत्ता परिवर्तन हुआ हेमंत सोरेन बतौर मुख्यमंत्री झारखंड की बागडोर संभालेंगे.. लोकतांत्रिक व्यवस्था में जनता ही सर्वोच्च है सर्वोपरि है, ठान ले तो परंपरागत चेहरे बदलते देर नहीं लगते. मुख्यमंत्री तक अपना सीट नहीं बचा पाए दूसरी तरफ वहीं जनता 22 नए चेहरों पर अपना विश्वास और भरोसा दिखाती है.. जो पहली बार विधायक बनकर कर विधानसभा जाने वाले हैं

उम्मीदों से भरे झारखंड को नए चेहरों से बहुत सारी उम्मीदें हैं

नए चेहरे, पहली जीत ..जानने समझने की उत्सुकता हर किसी में होती है.. मिलते हैं, जानते हैं उन 22 चेहरों को

मिथिलेश ठाकुर 53 साल के झामुमो प्रत्याशी मिथिलेश ठाकुर गढ़वा से 106681 वोट लाकर बीजेपी प्रत्याशी सत्येंद्र नाथ तिवारी को 23522 वोट के अंतर से मात दी

समरी लाल साधारण से कार्यकर्ता रहे कांके विधानसभा सीट से समरी लाल ने कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश बैठा को 22540 मतों से पराजित किया समरी लाल को कुल 111975 वोट प्राप्त हुए

किसुन कुमार दास सिमरिया विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी किशनदास ने आजसू के मनोज कुमार चंद्रा को 10996 वोटों के अंतर से हराया

लंबोदर महतो 53 वर्षीय लंबोदर महतो को आजसू ने गोमिया सीट से अपना उम्मीदवार बनाया भाजपा प्रत्याशी लक्ष्मण कुमार नायक को 10934 वोटों के अंतर से पटखनी दी गोमिया विधानसभा से आजसू पहली बार जीती है

संजीव सरदार पोटका विधानसभा से भाजपा के मेनका सरदार को 43110 वोटों के अंतर से शिकस्त दी, झारखंड मुक्ति मोर्चा के उम्मीदवार रहे संजीव सरदार को 110753 मत मिले

रामेश्वर उरांव कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने बीजेपी प्रत्याशी एवं पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सुखदेव भगत को हराया, वोटों का अंतर 30150 रहा. रामेश्वर उरांव को प्राप्त मत 74380 सुखदेव भगत 44230. लोहरदगा विधानसभा सीट लोहरदगा जिला में एकमात्र ही विधानसभा सीट है

दिनेश विलियम मरांडी लिट्टीपाड़ा विधानसभा सीट से दिनेश विलियम मरांडी की जीत हुई बीजेपी के दानियल किसको को 13903 वोटों से हराया

समीर कुमार मोहंती कोल्हान में सबसे ज्यादा 60565 मतों के अंतर से जीत दर्ज करने वाले उम्मीदवार बने समीर महंतीJMM, कुल 106017 वोट प्राप्त हुआ, यहां से बीजेपी प्रत्याशी कुणाल सारंगी को करारी हार मिली

जिगा सुसारन होरोJMM सिसई विधानसभा दिनेश उरांव चुनाव हार गए.. विधानसभा अध्यक्ष के पद पर थे, एक और दिग्गज चुनाव हारे.. जिगा होरो सिसई में अब एक चर्चित नाम हो गया, दिनेश उरांव 38418 वोट के बड़े अंतर से चुनाव हारे

इंद्रजीत महतो सिंदरी विधानसभा से बीजेपी प्रत्याशी के रूप में इंद्रजीत महतो उम्मीदवार बने लेफ्ट के आनंद महतो कड़ी मशक्कत के बाद 8253 वोट से चुनाव हार गए

शशि भूषण मेहता गुमला जिले का पाकी विधानसभा क्षेत्र भाजपा के उम्मीदवार रहे शशि भूषण मेहता 93184 वोट लाकर कांग्रेस उम्मीदवार देवेंद्र कुमार सिंह को 37190 वोटों के भारी अंतर से पराजित किया. पांकी विधानसभा में पहली बार भाजपा की जीत हुई

मंगल कालिंदी जुगसलाई विधानसभा आजसू के रामचंद्र सहिस लगातार तीसरी जीत नहीं दर्ज कर पाए झामुमो प्रत्याशी मंगल कालिंदी 88 581 वोट लाकर भारतीय जनता पार्टी के मुचीराम बाउरी को 21934 वोटों के अंतर से हराया

सुदिव्य कुमार गिरिडीह विधानसभा क्षेत्र से सुदिव्य कुमार लगातार दो बार विधायक रहे भाजपा प्रत्याशी निर्भय कुमार शाहाबादी को 15790 वोटों के अंतर से शिकस्त दी

भूषण बारा सिमडेगा विधानसभा में कांटे की टक्कर में कांग्रेस प्रत्याशी भूषण बारा ने भाजपा प्रत्याशी श्रद्धानंद बेसरा को पराजित किया. जीत और हार का फासला मात्र 285 मतों का रहा ,

सोनाराम सिंकू जगन्नाथपुर विधानसभा सोनाराम सिंकू कांग्रेस प्रत्याशी ने झाविमो के मंगल सिंह बोबोगा 11606 वोटों के अंतर से हराया. पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा इसी सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव जीते थे

रामचंद्र सिंह मनिका विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी रामचंद्र सिंह ने भाजपा प्रत्याशी रघुपाल सिंह को 16240 वोटों से हराया

राजेश कच्छप खिजरी विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी रामकुमार पाहन को 5469 वोटों से हराया कांग्रेस प्रत्याशी राजेश कच्छप को 83829 वोट प्राप्त हुए वहीं रामकुमार पाहन को 78322.

22 चेहरों में 5 महिला उम्मीदवारों ने भी जीत दर्ज की 4 कांग्रेस के खाते में गई

अंबा प्रसाद बड़कागांव विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी अंबा प्रसाद उम्र 27 साल सबसे युवा विधायक के रुप में विधानसभा जाने वाली हैं आजसू प्रत्याशी रोशन लाल चौधरी को 30140 वोटों के अंतर से हराया अंबा प्रसाद को 98862 वही रोशन लाल चौधरी को 67348 वोट प्राप्त हुए. बड़कागांव से अंबा प्रसाद के पिता योगेंद्र साहू माता निर्मला देवी दोनों विधायक रह चुके हैं.

दीपिका पांडेय सिंह महागामा विधानसभा सीट कांग्रेस प्रत्याशी दीपिका पांडेय सिंह भाजपा प्रत्याशी अशोक कुमार को 12499 वोटों से हराकर कांग्रेस को एक और जीत दिलाई, दीपिका पांडे सिंह को प्राप्त मत 89224 अशोक कुमार 76725

ममता देवी आजसू रामगढ़ हार गई ,प्रत्याशी सुनीता चौधरी 28718 वोटों के अंतर से ममता देवी से चुनाव हार गई. प्राप्त मत ममता देवी कांग्रेस 99944 सुनीता चौधरी आजसू 71226 .पिछले 15 वर्षों से रामगढ़ विधानसभा में आजसू का ही बोलबाला रहा. आंगनबाड़ी सेविका रही ममता देवी रामगढ़ में कांग्रेस के 30 साल के संघर्ष को विराम दे दिया. 1985 90 स्वर्गीय यमुना शर्मा आखरी बार कांग्रेस के विधायक थे.

पूर्णिमा नीरज सिंह कोयलांचल का सबसे चर्चित चुनाव झरिया विधानसभा; आमने-सामने थी एक ही परिवार के दो बहुएं. 2005 से 14 तक झरिया सीट पर भाजपा का ही कब्जा रहा है.. यहां भी उलटफेर हुआ, कांग्रेस प्रत्याशी पूर्णिमा नीरज सिंह ने भाजपा प्रत्याशी रागनी सिंह को पराजित किया, 52 सालों बाद झरिया में कांग्रेस की वापसी हुई है आखरी बार 1967 में झरिया राजा शिवप्रसाद सिंह कांग्रेस के टिकट से जीते थे

पुष्पा देवी छतरपुर विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी पुष्पा देवी ने राजद प्रत्याशी विजय कुमार को 26792 वोटों से हराया

खबर बनाने के दौरान एक मित्र ने हमसे कहा यह झारखंड है जनाब जनता का सम्मान कीजिए, दिग्गज जहां चुनाव हार जाते हैं ..चेहरे शख्सियत बन जाए ऐसा कुछ काम कीजिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here