तिरुपति बालाजी मंदिर के कपाट आज श्रद्धालुओं के लिए खुल गए.

विगत 20 मार्च से कोरोना संक्रमण के खतरे के मद्देनजर बालाजी मंदिर में प्रवेश की अनुमति नहीं थी. सरकार द्वारा जारी की गई नई गाइडलाइंस के मुताबिक 8 जून से धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति के बावजूद कई राज्यों ने अपने प्रदेशों में अभी तक धार्मिक स्थलों को खोलने की इजाजत नहीं दी है .महाराष्ट्र, उड़ीसा और झारखंड जैसे राज्य में फिलहाल अभी इसकी अनुमति राज्य सरकार द्वारा नहीं प्रदान की गई है.

सुबह 6:30 से शाम 7:30 बजे तक की होगी अनुमति

20 मार्च से श्रद्धालुओं के लिए बंद की गई बालाजी के दर्शन को आखिरकार 11 जून सुबह 6:30 बजे से शाम 7:30 बजे तक दर्शनार्थियों के लिए अनुमति दे दी गई. संक्रमण सुरक्षार्थ जारी दिशा-निर्देशों के अंतर्गत 1 दिन में 6000 लोग ही बालाजी के दर्शन कर पाएंगे वहीं हर घंटे 500 लोगों की मंदिर प्रवेश की अनुमति होगी.

65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों व 10 साल से कम उम्र के बच्चे नहीं कर पाएंगे दर्शन

आपको बता दें मंदिर प्रबंधन द्वारा हर दिन 200 मंदिर कर्मचारियों व श्रद्धालुओं की अस्थाई कैंप में रैंडम कोरोनावायरस टेस्ट की जाएगी. 60 वर्ष से अधिक व 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को मंदिर में प्रवेश की अनुमति नहीं प्रदान की गई है. हर दिन दी गई 6000 लोगों को दर्शन की अनुमति में 3000 वीआईपी टिकट के माध्यम से ₹300 प्रति दर के हिसाब से तिरुपति बालाजी का दर्शन कर पाएंगे. जिसके लिए 8 जून से ऑनलाइन बुकिंग शुरू की जा चुकी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here