हजारीबाग: क्वॉरेंटाइन सेंटर में ब्राह्मणों द्वारा दलित के हाथों खाना खाने से इंकार वाली बात तूल पकड़ने से पहले गलत साबित हुई दरअसल सोमवार प्रभात खबर में छपी खबर के मुताबिक विष्णुगढ़ प्रखंड के बनासो स्थित क्वॉरेंटाइन सेंटर में कुछ उच्च वर्ग के लोगों ने दलित रसोईया के हाथ खाने से इंकार किया.  आग की तरह शहर में फैली खबर, सोशल मीडिया पर आ रही प्रतिक्रिया आपसी सामंजस्य को लेकर कतई भी उचित नहीं थी बेवजह समाज में भ्रामक स्थिति बन रही थी. जिला उपायुक्त भुवनेश प्रताप सिंह ने मामले की संवेदनशीलता देखते हुए अभिलंब अपर समाहर्ता दिलीप तिर्की को संबंधित मामले के जांच के आदेश दिए . अपर समाहर्ता के द्वारा क्वॉरेंटाइन सेंटर में जाकर मामले की जांच पड़ताल की गई ,जो जानकारियां निकली उसके मुताबिक दोनों पक्षों को विवाद की कोई जानकारी नहीं है. रसोईया से पूछने पर उसने किसी भी ऐसी बात से इनकार किया वही क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे लोगों को भी इस बात की जानकारी नहीं थी. जांच में मामला बिल्कुल निराधार निकला. जांच संबंधित मामलों पर जिला उपायुक्त ने ट्वीट भी किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here