आखिरकार एनसीबी के 55 वें सवाल पर टूटी रिया चक्रवर्ती खुद ड्रग्स लेने की बात स्वीकारी , कानून और सत्य के कोड़े , एनसीबी के जटिल प्रश्नों की बौछार और जेल के सलाखों ने रिया को यह मांगने समझने और स्वीकार करने पर मजबूर कर दिया की लाख छुपाओ छुप न सकेगा यह राज है इतना गहरा दिल की बात बता देता है असली नकली चेहरा , जानिए अड़ियल और मनशोख रिया का हाल

एनसीबी के सवालों के चक्रव्यूह में लगातार उलझती जा रही रिया

जैसी करनी वैसी भरनी का ज्वलंत उदाहरण बनी अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती फिल्म जगत का उभरता सितारा सुशांत सिंह राजपूत डेथ मिस्ट्री में ड्रग्स की संलिप्तता के मामले में फिलहाल नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ( एनसीबी ) की हिरासत में भायखला जेल में है. एनसीबी लगातार रिया से दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में ड्रग्स की संलिप्तता को लेकर तीखे सवाल पूछ रही है ड्रग्स एडिक्ट के तीखे सवाल पर रिया लगातार अपना पल्ला झाड़ ले रही थी , अपने बयान उसने जो भी ड्रग्स खरीदा था सुशांत सिंह राजपूत और उसके दोस्तों के सेवन के लिए खरीदा था वह खुद ड्रग्स का इस्तेमाल नहीं करती थी व करती है के बयान पर अड़ी हुई थी .

एमसीबी के 55 वें सवाल पर टूटी रिया कबूला सच

सूत्रों के मुताबिक एनसीबी के रिया से पूछे गए 55 वें प्रश्न के दौरान रिया चक्रवर्ती ने कहा कि वह एक अच्छी अभिनेत्री है ,. एनसीबी ने रिया के सब्र को तोड़ने व उसकी वर्तमान औक़ात जताने की रणनीति में जवाब दिया कि मैम अब अभिनय के लिए आपके पास समय नहीं रहा तो आप कैसे अच्छी अभिनेत्री हैं ? एनसीबी ने यह भी कहा कि आप यदि केवल ड्रग्स सुशांत और उसके दोस्तों के लिए खरीदे थे तो आप ड्रग्स पेडलर हैं यह ड्रग्स सेवन से भी बड़ा कानूनी अपराध है. एनसीबी के इस तीक्ष्ण टिप्पणी व जवाब से तीर निशाने पर लगा और रिया का सब्र का बांध भी पुरी तरह टूट गया इसके बाद रिया ने बिना कोई हील हुज्जत किए खुद ड्रग्स लेने की बात कबूल कर लिया .

कंगना और रिया एक ही सिक्के के दो पहलू , एक अर्श पर और दूसरा फर्श पर क्यों ?

आम प्रतिक्रिया है कि कंगना रनौत और रिया चक्रवर्ती बॉलीवुड से जुड़े पात्र है, एक ही सिक्के के दो पहलू है. कंगना रनौत सच्चाई के लिए अपना बहुत कुछ खोकर भी अपने मिशन पर दृढ़ निश्चय और संकल्प के साथ अडिग बनी हुई है जबकि रिया चक्रवर्ती सत्य को झूठ फरेब से मात देने में कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ रही है. इसका नतीजा भी सामने है कंगना के समर्थन में पूरा देश मीडिया रिपोर्टर्स और कई संगठन ताल ठोक कर खड़े हैं ,नाम और शोहरत भी बटोर रही है. वहीं रिया चक्रवर्ती खुद जाल फरेब और फरेबी समर्थकों के चक्कर व चक्रव्यूह में उलझ कर अपना सब कुछ खो रही है भारी बदनामी और कलंक का पात्रा भी बन रही है. इसका नसीहत भी झेल रही है भारी खामियाजा भी भुगत रही है भारतीय नारी व हिंदी फिल्म जगत के इतिहास के अध्याय में कंगना रनौत का नाम स्वर्णाक्षर में और रिया चक्रवर्ती का नाम काला अक्षर में रेखांकित होना तय माना जा रहा है .सच है कि सत्य असत्य का प्रभाव अलग अलग होता है और वक्त का पहिया हमेशा एक जैसा नहीं रहता इसका ज्वलंत उदाहरण बनेगी सुशांत डेथ केस मिस्ट्री की मुख्य संदिग्ध नायिका और बेबफा प्रेमिका रिया चक्रवर्ती .

वरिष्ठ पत्रकार व स्तंभकार प्रो0 धीरेंद्र नाथ सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here