ग्रामीणों ने अदाणी कंपनी के ऐसे आयोजनों को सराहा, कहा- लगातार होते रहने चाहिए ऐसे आयोजन

हजारीबाग /बड़कागांव : गोंदलपुरा कोल परियोजना के तहत अदाणी फाउंडेशन की ओर से राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर सेहदा गांव में आयोजित तीन दिवसीय अंतर ग्रामीण फुटबॉल टूर्नामेंट प्रतियोगिता का फ़ाइनल मुकाबला जोराकाठ की टीम ने जीत लिया। इस टीम के खिलाड़ियों ने बेहतर खेल का प्रदर्शन करते हुए बसकटवा की टीम को पेनल्टी में तीन-दो से पराजित कर दिया। इसी के साथ इस प्रतियोगिता का समापन हो गया।

गोंदलपुरा पंचायत के मुखिया ने विजेता टीम को शील्ड और ट्रॉफी देकर किया सम्मानित

29 से 31 अगस्त तक चली इस फुटबॉल प्रतियोगिता के समापन के अवसर पर गोंदलपुरा पंचायत के मुखिया वासुदेव यादव ने विजेता टीम को शील्ड और ट्रॉफी देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इस कंपनी के इस आयोजन की सराहना करते हुए कहा कि ऐसी खेल प्रतियोगिता से युवाओं के साथ-साथ ग्रामीणों में भी नयी उत्साह का संचार होता है। कंपनी के द्वारा आयोजित इस खेल प्रतियोगिता से ग्रामीणों में बेहतर सन्देश गया है। इसलिए ऐसे आयोजन समय-समय पर होते रहने चाहिए। मौके पर मौजूद ग्रामीण, महिलाएं और खेल प्रेमी युवाओं ने अदाणी फॉउंडेशन के इस आयोजन की काफी सराहना की। युवाओं ने कहा कि इस प्रतियोगिता के आयोजन से वे काफी उत्साहित हैं। इस खेल प्रतियोगिता में कुल 12 टीमों ने हिस्सा लिया था, जिसमें भेलवा, काउंसी, चपरी, बसकटवा, जोराकाठ, बलोदर, गोंदलपुरा, रुदी, तिलैया और सेहदा आदि की टीमें शामिल थीं।

खिलाड़ियों को ट्रॉफी और शील्ड देकर

प्रतियोगिता के विजेता और उप विजेता समेत बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को ट्रॉफी और शील्ड देकर अदाणी फॉउंडेशन की ओर से पुरस्कृत किया गया। मैन ऑफ़ द मैच का पुरस्कार जोराकाठ के खिलाडी रूपेश कुमार को प्रदान किया गया। वहीँ, टूर्नामेंट के रेफरी सनोत हांसदा को भी सम्मानित किया गया।

#

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here